ब्रिटिश ब्यूटी क्वीन का आरोप – सीरियाई मूल की होने से अमेरिका में नहीं मिला प्रवेश

मूल रूप से सीरिया की रहने वाली एक ब्रिटिश ब्यूटी क्वीन का मानना है कि सीरिया में जन्म होने से उनके अमेरिका में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया।

बता दें कि डॉक्टर, लीन क्लाइव, 15 जनवरी को लास वेगास में मिसेज वर्ल्ड प्रतियोगिता के फाइनल में यूके का प्रतिनिधित्व करने वाली थीं।

29 वर्षीया क्लाइव, जो दमिश्क में पैदा हुई और 2013 से इंग्लैंड में रह रही, ने कहा कि उसके परिवार के वीजा आवेदन सभी स्वीकृत हो गए थे लेकिन उसे अस्वीकार कर दिया गया था।

क्लाइव ने बीबीसी को बताया, “मैंने ब्रिटिश पासपोर्ट के साथ आवेदन किया था। मैं ब्रिटेन का प्रतिनिधित्व कर रही हूं और मैं एक ब्रिटिश नागरिक हूं, इसलिए मुझे नहीं पता था कि मुझे अमेरिका से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। ”

“मेरे पति और मेरी बच्ची को उनका वीसा दिया गया था, लेकिन मेरा मना कर दिया गया। उनके और  मेरे बीच केवल जन्म स्थान का अंतर है।”

अमेरिकी अधिकारियों ने एक बयान में कहा: “अमेरिकी कानून के तहत वीजा रिकॉर्ड गोपनीय हैं; इसलिए, हम व्यक्तिगत वीज़ा मामलों के विवरण पर चर्चा नहीं कर सकते हैं।”

अमेरिकी सरकार अपनी वेबसाइट पर कहती है कि वीजा के लिए आवेदन करने वाले लोग, जो उन देशों के नागरिक हैं जिन्हें अमेरिका आतंकवाद का प्रायोजक मानता है, जैसे कि सीरिया, का साक्षात्कार एक कांसुलर अधिकारी द्वारा किया जाना चाहिए।

क्लाइव की स्थानीय सांसद एम्मा हार्डी ने कहा कि वह अपनी ओर से हस्तक्षेप करने की कोशिश कर रही हैं। क्लाइव ने कहा कि उन्होने यूके में अमेरिकी दूतावास से “सामान्य ज्ञान” दिखाने के लिए कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here