राजस्थानी गायक मामे खान ने रचा इतिहास, कान फिल्म समारोह का हिस्सा बनने वाले पहले लोक कलाकार बने

आवाज द वाॅयस /नई दिल्ली /कान्स

राजस्थानी गायक मामे खान ने भारतीय लोक कला के क्षेत्र में इतिहास रच दिया. वह कान्स फिल्म फेस्टिवल का हिस्सा बनने वाले भारत के पहले लोक कलाकार हैं.

भारतीय प्रतिनिधिमंडल के रूप में सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर के नेतृत्व में, राजस्थानी गायक मामे खान ने मंगलवार को कान्स में भारत के लिए रेड कार्पेट खोलने वाले पहले लोक कलाकार बनकर इतिहास रचा है.

खान कई बॉलीवुड फिल्मों जैसे ‘लक बाई चांस‘, ‘नो वन किल्ड जेसिका‘ और ‘सोनचिरैया‘ में पार्श्व गायक रह चुके हैं. रेड कार्पेट पर अमित त्रिवेदी के साथ कोक स्टूडियो में उन्होंने प्रस्तुति दी.

वह पारंपरिक राजस्थानी पहनावे में थे, जिसमें एक कढ़ाई वाला कोट, नीचे एक जीवंत गुलाबी कुर्ता शामिल था. ग्लैमरस रेड कार्पेट टुकड़ी में भारतीय फिल्मी हस्तियां भी शामिल हैं.

उन्होंने भी इस दौरान भारतीय सिनेमा की विविधता और विशिष्टता प्रदर्शित की. प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा के रूप में खान और ठाकुर के अलावा शेखर कपूर, पूजा हेगड़े, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, तमन्ना भाटिया, आर माधवन, एआर रहमान, प्रसून जोशी, वाणी त्रिपाठी, रिकी केज शामिल हैं.

2022 कान्स फिल्म फेस्टिवल में इंडिया पवेलियन का उद्घाटन आज अनुराग ठाकुर द्वारा किया जाएगा. इस साल के लिए यूनिवर्सल थीम भारत दुनिया का कंटेंट हब है.

साभार: आवाज द वॉइस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here