वसीम रिजवी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर राष्ट्रपति के नाम बरेली में कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

बरेली: वसीम रिजवी की अपवित्र पुस्तक पर प्रतिबंध लगाने और उसकी गिरफ्तारी की मांग तेज हो गई है। दरअसल बरेली शरीफ दरगाह से एक प्रतिनिधिमंडल ने आज बरेली के कलेक्टर मनविंदर सिंह सी से मुलाकात की। इस  प्रतिनिधिमंडल में राजकुमार तहसीन मिल्लत इंजीनियर सोहैब रजा खान, रजा एकेडमी के प्रमुख अल्हाज मोहम्मद सईद नूरी, मौलाना डॉ मोहम्मद शहाबुद्दीन रिजवी, मौलाना मोहम्मद अब्बास रिजवी मौजूद थे।

बरेली के जिला अधिकारी को ज्ञापन देते हुए अल्हाज मोहम्मद सईद नूरी ने कहा कि वसीम रिजवी ने हुजूर की शान का अपमान कर मुसलमानों कि भावनाओं को आहत किया है और उसकी किताब देश में जहर फैलाने वाली है। उसकी किताबें प्रतिबंध लगाकर जब्त की जानी चाहिए। उसे तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए। वसीम रिजवी वसीम, कुछ भगवा धारीदार ठगों के साथ, भारत की शांति को नष्ट करने पर आमादा है।

उन्होने कहा कहा कि मुसलमान बहुत धैर्य से काम कर रहे हैं। देश का मुसलमान नहीं चाहता कि भारत की शांति भंग हो लेकिन शैतान वसीम लगातार मुसलमानों को कोसने के लिए ईशनिंदा का अपराध कर रहा है, यही वजह है कि न केवल मुसलमान बल्कि पूरी दुनिया के मुसलमान बहुत गुस्से में हैं। यह भी कहा जा रहा है कि वसीम रिज़वी एक बाहरी विध्वंसक एजेंसी का हथियार बन गया है और भारत में धार्मिक घृणा फैलाकर और पवित्र पैगंबर की महिमा का अपमान करके देश को विभाजित करने की लगातार साजिश कर रहा है। उन्होने कहा, रजा अकादमी की मांग है कि देश की खुफिया एजेंसियां ​​इसकी जांच करें। वसीम रिजवी इन विनाशकारी गतिविधियों के कारण संदेह के घेरे में हैं।

नूरी साहब ने आगे कहा, प्रसिद्धि पाने के लिए, पैगंबर ए इस्लाम और मुसलमानों को निशाना बनाना कोई नई बात नहीं है, इससे पहले तसलीमा नसरीन, सलमान रुश्दी, आदि भी ऐसा कर चुके है। जिसके परिणामस्वरूप भारत में हत्या, रक्तपात और दंगे हुए हैं। हजारों घर धराशायी हो गए थे। वसीम लानती इसी तरह का खेल देश-विदेश में भारत सरकार की छवि खराब करने और विदेशों में लोगों को यह विश्वास दिलाने के लिए खेल रहा हैं कि मोदी की कट्टर हिंदुत्ववादी सरकार के इशारे पर भारत में मुसलमान अपने पैगम्बर इस्लाम की आलोचना कर रहे हैं। लेकिन वसीम इस्लाम के पैगंबर, कुरान और मुसलमानों को निशाना बनाकर सरकार के प्रयासों को कमजोर करने के लिए रिजवी इस्लाम विध्वंसक गतिविधियों में शामिल है।

वसीम रिजवी की यह शैतानी विशेषता कुछ भगवा आतंकवादियों के साथ सरकार को बदनाम करने पर तुली हुई है। वह देश में अराजकता फैलाना चाहता है। जो स्पष्ट रूप से दिखाता है कि कुछ देश भारत को आगे बढ़ने से रोकने के लिए वसीम रिज़वी जैसे लोगों का उपयोग कर रहे हैं। सरकारी खुफिया एजेंसियां ​​​​इसकी गहन जांच कर वसीम रिजवी को तुरंत गिरफ्तार करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here