गुरुग्राम में मुसलमानों को परेशान होता देख एक ‘हिंदू’ ने नमाज़ के लिए दी अपनी जगह

हरियाणा के गुरुग्राम के सेक्टर 12 में खुले में नमाज़ पढ़ने को लेकर विवाद जारी है। कई हिन्दू संगठनों ने खुले में नमाज़ विरोध किया हुआ है। इसी बीच सांप्रदायिक सौहार्द और भाईचारे की मिसाल भी देखने को मिली। जहाँ एक हिन्दू युवक ने जुमे की नमाज़ पढ़ने के लिए मुस्लिमों को अपनी जगह दे दी। जिसके बाद करीब 20 लोगों ने वहां नमाज़ अदा की।

मुस्लिमों को नमाज की जगह देते हुए इस युवक ने कहा कि वो अपने अस्पताल की छत भी नमाज के लिए उपलबध कराने को तैयार है। जहाँ हर जुमे को आराम से कुछ लोग नमाज़ अदा कर सकते है, जब तक अन्यथा इंतिज़ाम नहीं हो जाता।

इस खबर को देश की एकता और भाईचारे के लिए सकारात्मक करार देते हुए मुस्लिम स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन ऑफ़ इंडिया के पूर्व अध्यक्ष डाॅ. शुजात क़ादरी ने कहा कि “नफ़रत की उम्र लंबी नही होती, ये ख़बर पढ़िए, अच्छा संकेत है। गुरुग्राम के सेक्टर 12 में खुले में नमाज़ को लेकर विवाद है, वहां नमाज़ नहीं हुई लेकिन यही पर भाईचारे की मिसाल देखने को मिली। पास के ही एक हिन्दू भाई ने जुमे की नमाज़ पढ़ने के लिए अपनी जगह दी, करीब 20 लोगों नमाज़ पढ़ी।”

उल्लेखनीय है कि गुरुग्राम में वक़्फ़ के अंतर्गत आने वाली 19 मस्जिद बंद है। जिससे स्थानीय मुसलमान सड़कों पर नमाज पढ़ने को मजबूर है। स्थानीय मुस्लिमों ने प्रशासन से मस्जिदों को खोलने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here