शिनजियांग और उइगर मुस्लिमों पर बनी डॉक्यूमेंट्री बटोर रही है सुर्खियां

मैं अपनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘द इनविजिबल पीपल ऑफ चाइना पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर’ (CPEC) के दूसरे भाग को यू-ट्यूब पर रिलीज करके बहुत उत्साहित हूं।

डॉक्यूमेंट्री का पहला भाग गिलगित बाल्टिस्तान के बारे में था। डॉक्यूमेंट्री का दूसरा भाग शिनजियांग प्रांत और उइगर मुस्लिमों के मानवाधिकार उल्लंघन पर आधारित है। यह उइगर, नूर बख्शीया और अन्य संप्रदायों के अधिकारों और प्रताड़ना के बारे में दर्शाता है।

जो कॉरिडोर भारतीय भू-भाग के सीने पे बन रहा है, वह सांप्रदायिक हिंसा, जनसांख्यिकीय परिवर्तन आदि को और बढ़ा सकता है। मैं यह फिर से दोहराना चाहूंगा कि यह डॉक्यूमेंट्री भी एक महत्वपूर्ण व देखने योग्य विषय है ।

साथ ही यह बहुत जरूरी भी है कि नागरिकों को यह पता होना चाहिए कि भारत को बहुत समय से किन परेशानियों और दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here